Saturday, April 13, 2024
HomeUncategorizedओटीटी प्लेटफार्म अमेजॉन प्राइम वीडियो पर प्रदर्शित हुई नंदमुरी बालकृष्ण की भगवंत...

ओटीटी प्लेटफार्म अमेजॉन प्राइम वीडियो पर प्रदर्शित हुई नंदमुरी बालकृष्ण की भगवंत केसरी

नंदमुरी बालकृष्ण स्टारर और अनिल रविपुडी के डायरेक्शन में ‘भगवंत केसरी’ 19 अक्टूबर 2023 को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। इस फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला और इसने जमकर कारोबार भी किया। वहीं थिएट्रिकल रिलीज के बाद अब ये फिल्म ओटीटी पर धमाल मचा रही है। ‘भगवंत केसरी’ ओटीटी के किस प्लेटफॉर्म पर हुई है रिलीज?

साल 2023 की सुपर-डुपर हिट फिल्म ‘भगवंत केसरी’ की ओटीटी रिलीज का लोग काफी समय से इंतजार कर रहे थे। ‘भगवंत केसरी’ अमेजॉन प्राइम वीडियो पर रिलीज हो गई है। ऐसे में जो लोग इस शानदार फिल्म को थिएटर में देखने से चूक गए थे वे अब घर बैठे इसे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर एंजॉय कर सकते हैं. हालांकि डिजिटल प्लेटफॉर्म ने अभी इस फिल्म को तेलुगु वर्जन में ही रिलीज किया है।

‘भगवंत केसरी’ में नंदमुरी बालकृष्णन और श्री लीला ने लीड रोल प्ले किया है। फिल्म ने काजल अग्रवाल, अर्जुन रामपाल, सरथकुमार और आडुकलम नरेन जैसे प्रमुख कलाकार ने भी अहम भूमिका निभाई है। अनिल रविपुडी द्वारा निर्देशित एक्शन-ड्रामा फिल्म भगवंत केसरी एक पूर्व अपराधी के इर्द-गिर्द घूमती है, जो अपनी भतीजी के लिए केयरटेकर की भूमिका निभाता है, और उसे आर्म्ड फोर्स में अपना करियर बनाने के लिए प्रेरित करता है। इस फिल्म को शाइन स्क्रीन्स बैनर के तहत प्रोड्यूस किया गया था और फिल्म के संगीत निर्देशक थमन एस हैं।

भगवंत केसरी ने बॉक्स ऑफिस पर दमदार कारोबार किया था। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर टाइगर श्रॉफ की बड़े बजट की फिल्म गणपत और रवि तेजा की टाइगर नागेश्वर राव को भी धूल चटा दी थी। ये फिल्म साल 2023 की तेलुगु में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म है। इसने भारत में 100 करोड़ से ज्यादा का कलेक्शन किया था और वर्ल्डवाइड फिल्म ने 200 करोड़ से ज्यादा की कमाई की थी।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES