Monday, June 24, 2024
Homeउत्तराखंडरक्तदान कर बचाई जा सकती हैं कई जानें। रक्तदान करने यहाँ पहुंचे.

रक्तदान कर बचाई जा सकती हैं कई जानें। रक्तदान करने यहाँ पहुंचे.

आओ करें रक्तदान, बचाएं मरीजों की जान

*आओ करें रक्तदान, बचाएं मरीजों की जान*

देहरादून (हि. डिस्कवर)

विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश में हर 6 मिनट में एक मरीज की मौत खून की कमी से होती है। ऐसे में खून की कमी से किसी की जिंदगी का सफर खत्म न होने पाए, इसके लिए हर स्वस्थ व्यक्ति को रक्तदान करना चाहिए। इसके लिए लाइफ केयर पैथोलॉजी सेंटर की ओर से भी अनूठी पहल की गई है। राजीव नगर, 6 नम्बर पुलिया, निकट अम्बेवाला गुरुद्वारा में स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया जा रहा है।

किसी भी स्वस्थ व्यक्ति के एक यूनिट रक्तदान करने से 4 मरीजों की जिंदगी बचाई जा सकती है। एक यूनिट रक्त से चार कंपोनेंट्स अलग किए जाते हैं, जो चार मरीजों की जिंदगी बचाने में इस्तेमाल किए जाते हैं। ऐसे में हर स्वस्थ व्यक्ति को रक्तदान के लिए आगे आना चाहिए।

अधिक से अधिक युवाओं को रक्तदान के लिए आगे आएं ताकि अस्पतालों में रक्त की कमी को पूरा करने के साथ ही गंभीर मरीजों की जिंदगी बचाई जा सके। रक्तदान को लेकर समाज में तमाम भ्रांतियां हैं। इन भ्रांतियों को दरकिनार कर युवा पीढ़ी को रक्तदान के लिए आगे आना चाहिए।

रक्तदान क्यों करें?

  • आपका रक्त अपने घटकों (लाल रक्त कोशिकाओं, प्लाज्मा आदि) में अलग होने पर एक से अधिक लोगों की जान बचाता है।
  • थैलेसीमिया और हीमोफीलिया जैसी बीमारियों के मरीजों के साथ-साथ दुर्घटना के बाद लगी चोटों, बड़ी सर्जरी, एनीमिया आदि के इलाज के लिए भी नियमित रूप से रक्त की आवश्यकता होती है। यह आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है।

रक्तदान के बड़े फायदे

  • क्या आप जानते हैं कि जो लोग रक्तदान करते हैं उन्हें दिल का दौरा पड़ने की संभावना 88% कम होती है और किसी भी प्रकार की हृदय संबंधी बीमारी होने की संभावना 33% कम होती है।
  • जब आप रक्तदान करते हैं, तो यह आपके शरीर से 225 से 250 मिलीग्राम आयरन को हटा देता है, जिससे हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है।
  • ब्लड सेंटर दान किए गए रक्त पर कई परीक्षण करता है। इसलिए नियमित रक्तदान आपको गंभीर बीमारियों से बचाने में मदद करता है।
  • रक्तदान किए गए रक्त की एक यूनिट से तीन लोगों की जान बचाई जा सकती है।
  • आप हर 03 महीने में रक्तदान कर सकते हैं। आपके शरीर के तरल पदार्थों की पूरी तरह से पूर्ति होने में केवल 48 घंटे लगते हैं।
  • रक्तदान किए गए रक्त की शेल्फ-लाइफ 35 से 42 दिन है। हमारे ब्लड बैंकों में स्टॉक को फिर से भरने की निरंतर आवश्यकता है।
  • रक्तदान से पहले आवश्यकता यह है कि आपका वजन कम से कम 45 किलोग्राम होना चाहिए, उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए और सामान्य रूप से स्वस्थ होना चाहिए।
  • रक्तदान प्रक्रिया के दौरान, आप एक यूनिट रक्त दान करेंगे, इसमें लगभग छह से दस मिनट लगते हैं।
  • रक्तदान करने के बाद, यह अनुशंसा की जाती है कि आप अगले 24 से 48 घंटों के लिए अपने तरल पदार्थ का सेवन बढ़ा दें; लगभग पांच घंटे तक ज़ोरदार शारीरिक परिश्रम, भारी सामान उठाने या दान वाले हाथ से खींचने से बचें; और अगले 24 घंटों तक संतुलित भोजन करें।

#रक्तदान के बाद धूम्रपान और शराब के सेवन की सलाह नहीं दी जाती है। यद्यपि दान देने वालों को दान करने के बाद शायद ही कभी असुविधा का अनुभव होता है, यदि आपको चक्कर आ रहा है, तो तब तक लेटे रहें जब तक कि यह अनुभूति दूर न हो जाए।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES