Sunday, March 3, 2024
HomeUncategorizedफिर चमके सोना- चांदी के भाव, 60 हजार के पार पहुंचा गोल्ड

फिर चमके सोना- चांदी के भाव, 60 हजार के पार पहुंचा गोल्ड

नई दिल्ली। सोने-चांदी की वायदा कीमतों में तेजी देखी जा रही है। दोनों के वायदा भाव तेजी के साथ खुले। सोने के वायदा भाव बढक़र 60 हजार रुपये को पार कर गए हैं। चांदी के वायदा भाव भी 71 हजार रुपये के ऊपर कारोबार कर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने—चांदी के वायदा कीमतों में तेजी देखने को मिल रही है।

सोने के वायदा भाव की शुरुआत तेजी के साथ हुई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर सोने का दिसंबर कॉन्ट्रैक्ट आज 101 रुपये की तेजी के साथ 60,166 रुपये के भाव पर खुला। खबर लिखे जाने के समय यह कॉन्ट्रैक्ट 135 रुपये की तेजी के साथ 60,200 रुपये के भाव पर कारोबार कर रहा था। इस समय इसने 60,224 रुपये के भाव पर दिन का उच्च स्तर और 60,156 रुपये के भाव पर निचला स्तर छू लिया। मई महीने में सोने के वायदा भाव ने 61,845 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर सर्वोच्च स्तर छू लिया था।

चांदी के वायदा भाव की शुरुआत भी आज तेजी के साथ हुई। एमसीएक्स पर चांदी का बेंचमार्क दिसंबर कॉन्ट्रैक्ट आज 201 रुपये की तेजी के साथ 71,794 रुपये के भाव पर खुला। यह कॉन्ट्रैक्ट 226 रुपये की तेजी के साथ 71,819 रुपये के भाव पर कारोबार कर रहा था। इस समय इसने 71,820 रुपये के भाव पर दिन का उच्च और 71,721 रुपये प्रति किलो के भाव पर दिन का निचला स्तर छू लिया।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने चांदी की वायदा कीमतों की शुरुआत तेजी के साथ हुई। कॉमेक्स पर सोना 1966.90 डॉलर प्रति औंस के भाव पर खुला। पिछला क्लोजिंग प्राइस 1966.50 डॉलर था। खबर लिखे जाने के समय यह 3.70 डॉलर की तेजी के साथ 1970.20 डॉलर प्रति औंस के भाव पर कारोबार कर रहा था। कॉमेक्स पर चांदी के वायदा भाव 23.16 डॉलर के भाव पर खुले, पिछला क्लोजिंग प्राइस 23.13 डॉलर था। खबर लिखे जाने के समय यह 0.08 डॉलर की तेजी के साथ 23.21 डॉलर प्रति औंस के भाव पर कारोबार कर रहा था।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES