Thursday, February 29, 2024
HomeUncategorizedऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए के्रडिट और डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करने...

ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए के्रडिट और डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करने से पहले उसे करें सिक्योर, फॉल करें यह टिप्स

नई दिल्ली। फेस्टिव सीजन में ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म पर सेल शुरू हो गई है। इस सेल का लाभ उठाने के लिए कई लोग शॉपिंग करना शुरू कर देते हैं। आपको बता दें कि फेस्टिव सीजन की आड़ में कई तरह के ऑनलाइन फ्रॉड भी हो रहे हैं। ऐसे में आपको इस तरह के फ्रॉड से सावधान रहने की जरूरत है। आप जब भी अपना डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो उससे पहले आपको उसे सिक्योर करना चाहिए।

आपका कार्ड जितना ज्यादा सिक्योर होगा, उतने ही आपके साथ फ्रॉड होने के कम चांस होंगे। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे कि आप अपने डेबिट और क्रेडिट कार्ड को ज्यादा से ज्यादा सिक्योर कैसे कर सकते हैं।

क्रेडिट और डेबिट कार्ड को कैसे करें सिक्योर
भारतीय रिजर्व बैंक ने एक सुरक्षा प्रणाली शुरू की है। इस प्रणाली में आपके डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड को ज्यादा सुरक्षा दी जाती है। इस प्रणाली या सिस्टम का नाम 3ष्ठ स्द्गष्ह्वह्म्द्ग है। इसमें जब भी आप शॉपिंग करते हैं तो आपसे एक अतिरिक्त कोड मांगा जाता है। यब कोड बैंक द्वारा भेजा जाता है। आपको यह कोड बैंक रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या फिर बैंकिंग ऐप पर मिल जाएगा। इस प्रणाली के लागू होने से ऑनलाइन हो रहे फ्रॉड की संख्या में कमी आएगी। इस प्रणाली में यह सुनिश्चित हो जाएगा कि शॉपिंग के लिए कार्ड का इस्तेमाल कार्ड होल्डर द्वारा किया जा रहा है।

इन टिप्स को करें फॉलो
आपको हमेशा विश्वसनीय ऐप या वेबसाइट से ही शॉपिंग करनी चाहिए।
अपने कार्ड की जानकारी किसी भी अज्ञात व्यक्ति को नहीं देनी चाहिए।
आप अपने कार्ड के स्टेटमेंट को नियमित रूप से चेक करते रहें। अगर आपको किसी भी तरह की हेरफेर लगता है तो आप तुरंत शिकायत दर्ज करें।

आपको अपना क्रेडिट कार्ड की लिमिट को कम करना चाहिए। यह आपके साथ हो रहे फ्रॉड की संख्या को कम करने में मदद करता है। आप जब भी ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं तो आपको अपना डेटा को सुरक्षित रखना चाहिए।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES