Sunday, April 14, 2024
HomeUncategorizedरेस्टोरेंट में खाना खाने गई महिला, टेबल की फोटो खींची ही थी...

रेस्टोरेंट में खाना खाने गई महिला, टेबल की फोटो खींची ही थी कि आ गया 10 लाख का बिल, पढ़िए पूरी खबर 

बीजिंग। दुनिया में सबकुछ इतना डिजिटल हो चुका है कि लोग रेस्टोरेंट में जाकर भी बैठे- बैठे क्यूआर कोड के जरिए खाना ऑनलाइन ऑर्डर करते हैं। हर टेबल के लिए एक क्यूआर कोड होता है यानी खाना किसी के नाम से नहीं बल्कि टेबल के लिए ऑर्डर किया जाता है। लेकिन यही तेज तकनीक एक महिला के लिए बड़ी मुसीबत बन गई। मामला चीन का है। हुआ यूं कि यहां वांग नाम की एक महिला अपने दोस्त के साथ ऐसे ही एक रेस्टोरेंट में पहुंची। उसने क्यूआर कोड के जरिए टेबल पर खाना ऑर्डर किया। जब खाना आया तो वह अपने दोस्त के साथ खाने की फोटो भी लेने लगी और उसने तुरंत ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कर दी।

यहां उसे जरा भी अहसास नहीं हुआ कि उसने कितनी बड़ी गलती की है। क्योंकि थोड़ी देर बाद उसके पास रेस्टोरेंट का एक स्टाफ आया और उससे उसके काफी भारी भरकम ($60,000- लगभग 10 लाख रुपये) के ऑर्डर को कंफर्म करने के लिए कहा। महिला ये जानकर हैरान रह गई। क्योंकि उसने इतना खाना ऑर्डर ही नहीं किया था। वांग को एकाएक अपना सोशल मीडिया पोस्ट याद आया। दरअसल, जो तस्वीर उसने सोशल मीडिया पर शेयर की थी उसमें टेबल का क्यूआर कोड भी आ गया था। ऐसे में लोगों ने मजे लेने के लिए उस कोड के जरिए टेबल के लिए ढेर सारा खाना ऑर्डर कर दिया था। वांग ने तुरंत पोस्ट डिलीट किया लेकिन शायद किसी ने उसे डाउनलोड कर लिया था और वह अब भी खाना ऑर्डर किए जा रहा था।

रेस्टोरेंट के अनुसार उस कोड पर लोगों ने ताजे बत्तख के खून के 1,850 पोर्शन, स्क्विड के 2,580 पोर्शन और झींगा पेस्ट के 9,990 पोर्शन ऑर्डर दिया था। इस सब कि कीमत बहुत- बहुत ज्यादा थी। अच्छी बात ये रही कि रेस्टोरेंट ने वांग की परेशानी को समझ लिया और उससे इन सब चीजों का बिल नहीं मांगा। साथ ही उन्हें दूसरी टेबल दे दी। इधर, रेस्टोरेंट मैनेजमेंट ने कहा कि वह न तो खाना ऑर्डर देने वाले लोगों का पता लगा सकता है और न ही लोगों को ऐसा करने से रोक सकता है। वहीं वांग ने कहा कि यह उनके लिए बहुत बड़ी सीख थी और अब वह दोबारा सोशल मीडिया पर कुछ भी शेयर करने से पहले 10 बार सोचेंगीं।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES