Thursday, February 22, 2024
Homeउत्तराखंडकॉर्बेट नेशनल पार्क में बाघ ने महिला को मारा, इलाके में दहशत

कॉर्बेट नेशनल पार्क में बाघ ने महिला को मारा, इलाके में दहशत

क्षत विक्षत शव कालू सिद्ध मजार के पास मिला

क्षत विक्षत शव कालू सिद्ध मजार के पास मिला

ग्रामीणों में वन विभाग के प्रति पनपा रोष

रामनगर। कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के जंगल में महिलाओं के साथ लकड़ी बीनने गई एक महिला को बाघ ने अपना निवाला बना लिया। महिला के देर तक वापस न लौटने पर ग्रामीणों ने वन विभाग को सूचना दी तो वन कर्मियों और ग्रामीणों ने महिला को खोजबीन शुरू की। काफी मशक्कत के बाद लापता महिला का क्षत विक्षत शव ढेला रेंज के बेलघट्टी क्षेत्र में कालू सिद्ध मजार के पास बरामद हुआ।

जानकारी के मुताबिक बुधवार की धाम तीन बजे रामनगर ढेला मार्ग पर स्थित पटरानी गांव की तीन महिलाएं पटरानी क्षेत्र अंतर्गत कॉर्बेट रिजर्व पार्क के रेस्क्यू सेंटर की ओर रेस्क्यू सेंटर के पास रामनगर ढेला मार्ग पर लकड़ी बिनने गई थी। जिसमें से एक महिला अनीता पत्नी रमेश राम (30 वर्ष) लकड़ी बीनने जंगल में दूर निकल गई। काफी देर तक अनीता के वापस न लौटने पर साथ की महिलाओं ने ग्रामीणों को सूचित किया।

जिसके बाद ग्रामीणों की सूचना पर वनकर्मियों की टीम मौके पर पहुंची। टीम ने ग्रामीणों के साथ जंगल की खाक छानते हुए शाम के धुंधलके में लापता महिला का क्षत विक्षत शव ढेला रेंज के बेलघट्टी क्षेत्र में कालू सिद्ध मजार के पास बरामद किया गया। महिला का शव बरामद होते ही ग्रामीणों में रोष पनप गया। वन्य जीवों का आतंक झेल रहे ग्रामीणों ने वन विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा है कि विभाग ग्रामीणों को बाघों से सुरक्षा देने में विफल साबित हो रहा है। खबर भेजे लिखे जाने तक ग्रामीण व वनकर्मी महिला का शव पोस्टमार्टम के लिए रामनगर अस्पताल लेकर पहुंच चुके हैं। पोस्टमार्टम की कार्यवाही बृहस्पतिवार की सुबह की जायेगी। मृतक महिला पटरानी (कारगिल) गांव के मनोनित ग्राम प्रधान हरीश पंचवाल के भाभी है। महिला के चार बच्चे बताए जा रहे हैं।

दूसरी ओर पटरानी (कारगिल) में बाघ द्वारा महिला को मारे जाने पर किसान संघर्ष समिति के संयोजक ललित उप्रेती ने इसे दुखद घटना बताते हुए कहा है कि इस घटना की पूर्ण जिम्मेदारी वन विभाग की है। उस इलाके में आदमखोर बाघ होने के बाद भी उसे पकड़ने की कोशिश नहीं की गई। जिससे आज उसने इस दूसरी घटना को अंजाम दिया है। यह आदमखोर बाघ वही बाघ है जिसे कुछ दिन पहले पूजा देवी को हाथीडगर में मारा था। अगर इसे तुरंत नहीं पकड़ा गया तो वन विभाग के खिलाफ बड़ा आंदोलन होगा।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES
Ad