Monday, June 24, 2024
Homeलोक कला-संस्कृतिपूरे प्रदेश में धूमधाम से मनाया जायेगा इगास लोक पर्व- श्रीमति मधु...

पूरे प्रदेश में धूमधाम से मनाया जायेगा इगास लोक पर्व- श्रीमति मधु भट्ट

देहरादून 22 नवंबर 2023 (हि. डिस्कवर)

उत्तराखंड संस्कृति, साहित्य एवं कला परिषद की उपाध्यक्ष श्रीमति मधु भट्ट ने आगामी 23 नवंबर को आयोजित होने वाले इगास लोक पर्व की पूरे प्रदेशवासियों को शुभकामनायें प्रेषित करते हुए कहा है कि दिवाली के 11 दिन बाद मनाये जाने वाले इगास लोक पर्व को इस बार प्रदेश के सभी जिलों में बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जायेगा।

श्रीमति मधु भट्ट ने कहा है कि इगास का यह लोकपर्व ठेठ उसी तरह प्रकाश पर्व के रूप में प्रचलन में है जिस तरह सम्पूर्ण भारत बर्ष में मनाई जाने वाली दिवाली है। फर्क सिर्फ़ इतना है कि पुरुषोत्तम राम तब 12 बर्ष का वनवास काटकर अयोध्या की राजगद्दी में विराजमान हुए थे व उनके राजतिलक के ऐन वक्त पर प्रकाशपुंज से अयोध्या ही नहीं पूरा देश जगमगा गया था और तब से अर्थात त्रेता युग से इस पर्व को हर बर्ष दिवाली के रूप में मनाया जाने लगा। उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए गौरव की बात है कि इस बर्ष दिवाली अमेरिका, ब्रिटेन, सऊदी अरब के साथ साथ विश्व भर के कई देशों में मनाई गई।

उत्तराखंड संस्कृति, साहित्य एवं कला परिषद की उपाध्यक्ष श्रीमति मधु भट्ट ने कहा कि इगास लोकपर्व के प्रकाश पुंज भी कुछ ऐसी ही विजय के प्रतीक हैं। अनुश्रुति व गढ़वाल के इतिहास में बर्णित गढ़वाल के राजा के महासेनानायक माधौ सिंह भंडारी व सेनानायक लोदी रिखोला तथा बर्तवाल नायकों के साथ बनवारी लाल तुंवर व दोस्तबेग मुग़ल ने तिब्बत के राजा काकुआमोर को हराया जबकि कुमाऊँ के चंदवंशी राजा बाजबहादुर चंद ने भी तिब्बत फतह की थी। जब एक राष्ट्र दूसरे राष्ट्र पर विजय हासिल करता है तो यह सचमुच बहुत बड़ा जश्न माना जाता है। कहा जाता है कि दिवाली के 11 दिन बाद एकादशी को मिली इस जीत को इगास के रूप में तभी से मनाया जाने लगा है।

उन्होंने कहा है कि प्रदेश के ओजस्वी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने -अपने जिले में इगास लोक पर्व मनाये। उन्होंने जानकारी दी है कि इस बार मुख्यमंत्री आवास में भी इगास लोक पर्व बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जायेगा, साथ ही साथ प्रदेश के मंत्री विधायक व दायित्वधारी गणमान्य भी अपने अपने क्षेत्रों में इस प्रकाशपुंज लोकपर्व इगास को मनाने जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इगास लोक पर्व जोकि हमसे लगभग दूर सा हो गया था उसे जीवंत बनाने के लिए राज्य सभा सांसद व भाजपा के मुख्य प्रवक्ता अनिल बलूनी जी ने अनूठी पहल की जिसके फलस्वरूप आज प्रदेश के हर जिले में गाँवों में व राजधानी देहरादून में इगास पर्व मनाने के लिए समाज व संस्थाओं ने इसे विशाल रूप दिया है।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES