Saturday, July 13, 2024
HomeUncategorizedएचपी ने किफायती रीफर्बिश्ड लैपटॉप किया लॉन्च

एचपी ने किफायती रीफर्बिश्ड लैपटॉप किया लॉन्च

नई दिल्ली। पीसी और प्रिंटर प्रमुख एचपी ने भारत में किफायती रीफर्बिश्ड लैपटॉप पेश किया। कंपनी ने कहा कि वह इसे एक एचपी प्रमाणित भागीदार के माध्यम से चलाएगी, जो खुदरा ग्राहकों और व्यवसायों को यह  किफायती एचपी पीसी बेचेगा।

नवीनीकरण कार्यक्रम एक सदस्यता मॉडल में संचालित किया जा रहा है, इससे व्यवसायों को 6, 12, या 24 महीनों के लिए नवीनतम तकनीक तक पहुंचने की अनुमति मिलती है, जिसे अब खुदरा ग्राहकों और छोटे व्यवसायों को लेनदेन के आधार पर नवीनीकृत पीसी की पेशकश करने के लिए विस्तारित किया जा रहा है। कंपनी ने एक बयान में कहा, कार्यक्रम का शुरुआती फोकस नोटबुक पर होगा। इसका उद्देश्य अपनी पेशकशों का विस्तार और विविधता लाना है।

एचपी इंडिया मार्केट के उपाध्यक्ष गुरप्रीत सिंह बराड़ ने कहा,यह उन लोगों के लिए एक गेम-चेंजर है, जो वित्तीय बाधाओं का सामना कर रहे हैं, पीसी उपयोग के लिए दरवाजे खोल रहे हैं। छात्रों को शैक्षिक संसाधन मिलते हैं, छोटे उद्यम उत्पादकता बढ़ाते हैं, और स्टार्टअप लागत प्रभावी तकनीकी समाधान ढूंढते हैं, ये सभी अधिक डिजिटल रूप से समावेशी समाज में योगदान करते हैं। एचपी का प्रमाणित भागीदार उद्यम और खुदरा उपभोक्ताओं से उपकरण प्राप्त करेगा और एचपी द्वारा परिभाषित मानकों के अनुसार उनका नवीनीकरण करेगा।

नवीनीकरण के बाद, भागीदार बिक्री करेगा और वारंटी सहित बिक्री के बाद व्यापक सहायता प्रदान करेगा। नवीनीकरण कार्यक्रम एचपी की पूर्व पायलट पहलों से उपजा है, जैसे आंतरिक रूप से कार्यबल के लिए प्रति वर्ष करीब 20 हजार उपकरणों की पुन: तैनाती। कंपनी ने कहा, हर एचपी-प्रमाणित रीफर्बिश्ड डिवाइस व्यक्तिगत प्राथमिकताओं और आवश्यकताओं के अनुरूप मेमोरी एन्हांसमेंट से लेकर स्टोरेज विस्तार तक कठोर नवीनीकरण प्रक्रिया से गुजरती है।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES