Sunday, March 3, 2024
HomeUncategorizedकेरल ब्लास्ट के बाद दिल्ली और यूपी में हाई अलर्ट जारी

केरल ब्लास्ट के बाद दिल्ली और यूपी में हाई अलर्ट जारी

नई दिल्ली। केरल में हुए बम धमाके के बाद दिल्ली और उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट जारी किया गया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल सेंट्रल एजेंसियों के संपर्क में है। यूपी एटीएस को भी अलर्ट किया गया है। केरल के कलामासेरी कन्वेंशन सेंटर में रविवार को हुए बम विस्फोटों की जांच से पता चला है कि विस्फोट को अंजाम देने के लिए टिफिन बॉक्स में रखे गए इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) का इस्तेमाल किया गया था। धमाकों में एक व्यक्ति की मौत हो गई और 40 घायल हो गए। घायलों में सात लोगों की हालत गंभीर है। केरल के डीजीपी शेख दरवेश साहब ने बिजली के शॉर्ट सर्किट के कारण विस्फोट होने की शुरुआती रिपोर्टों को खारिज कर दिया और पुष्टि की कि वह एक बम विस्फोट था।

सूत्रों ने यह भी पुष्टि की है कि यह आतंक पैदा करने के इरादे से किया गया कृत्य था। विस्फोट के समय कन्वेंशन सेंटर में लगभग 2,000 लोग प्रार्थना के लिए एकत्र हुए थे। कोच्चि से राष्ट्रीय खुफिया एजेंसी (एनआईए) की चार सदस्यीय टीम मौके पर थी। सूत्रों ने पुष्टि की कि नई दिल्ली से एनआईए टीम जांच संभालने के लिए केरल रवाना हो गई है। पुलिस के अनुसार, उस स्थान से कई विस्फोटों की सूचना मिली थी, जहां यहोवा के साक्षी विश्वासियों की बैठक आयोजित की गई थी। विस्फोट सुबह करीब 9 बजे हुए थे। हॉल को सील कर दिया गया था और केरल पुलिस का आतंकवाद निरोधक दस्ता घटनास्थल पर था।

यहोवा के साक्षी ईसाइयों का एक समूह है जो खुद को प्रोटेस्टेंट नहीं मानते हैं। यहोवा साक्षी सम्मेलन एक वार्षिक सभा है, जहां बड़ी सभाएं होती हैं, जिन्हें क्षेत्रीय सम्मेलन कहा जाता है, जो तीन दिनों तक आयोजित की जाती हैं। सूत्रों के मुताबिक यह आयोजन पिछले शुक्रवार को शुरू हुआ था और रविवार को इसका समापन होना था।

सूत्रों ने कहा कि सभी घायलों को कलामासेरी के सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है। केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने इस घटना को बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने रेखांकित किया कि सभी पहलुओं की गहराई से जांच की जाएगी। सीएम विजयन, जो दिल्ली में अपनी पार्टी की बैठक में भाग ले रहे हैं, ने राज्य के सहकारिता मंत्री वी.एन. वासवन को प्रतिनियुक्त किया है।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES