Wednesday, June 19, 2024
Homeउत्तराखंडसीएम धामी ने राज्यवासियों को स्थापना दिवस की दी शुभकामनाएं बोले- अगले...

सीएम धामी ने राज्यवासियों को स्थापना दिवस की दी शुभकामनाएं बोले- अगले पांच साल में उत्तराखंड की आर्थिक विकास दर होगी दोगुनी

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर कहा कि 2024 तक राज्य को टीबी मुक्त और 2025 तक ड्रग फ्री बनाने के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है। उन्होंने राज्यवासियों को स्थापना दिवस की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि डबल इंजन के युग में अगले पांच साल में उत्तराखंड की आर्थिक विकास दर (जीडीपी) दोगुनी करने में हम सफल होंगे।

शहीदों को किया नमन, वाजपेयी को किया याद

सीएम ने राज्य निर्माण के सभी अमर शहीदों, राज्य आंदोलनकारियों और देश के लिए बलिदान देने वाले वीर जवानों को याद किया। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए कहा कि उन्होंने उत्तराखंड की मजबूत नींव रखी। प्रदेश की महान जनता के आशीर्वाद, सरकार की मजबूत इच्छाशक्ति, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विशेष लगाव और केंद्र सरकार के सहयोग से उत्तराखंड तेजी से विकास की दिशा में आगे बढ़ रहा है।

डबल इंजन के युग में दोगुनी हुई केंद्रीय सहायता

मुख्यमंत्री ने कहा कि डबल इंजन के युग में उत्तराखंड को मिलने वाली केंद्रीय सहायता दोगुनी हो गई। 2012 से 2017 के बीच वार्षिक अनुदान 5615 करोड़ रुपये की तुलना में 2017 से 2022 के डबल इंजन युग में बढ़कर दोगुना यानी 11168 करोड़ हो गया। प्रदेश में रेल, सड़क, हवाई यात्रा सुविधाओं का तेजी से विकास किया जा रहा है।

पहाड़ में निवेश के लिए विशेष प्रयास उन्होंने कहा कि प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों में निवेश के लिए पर्यटन, आयुष व वेलनेस, आईटी, सौर ऊर्जा सहित सर्विस सेक्टर पर विशेष फोकस किया जा रहा है। पर्वतीय क्षेत्रों को एमएसएमई के केंद्र में रखा गया है। सीमांत तहसीलों के लिए मुख्यमंत्री सीमांत क्षेत्र विकास योजना शुरू की है। राज्य में निवेश की संभावनाओं के दृष्टिगत अगले माह 9 व 10 दिसंबर को देहरादून में ग्लोबल इन्वेस्टर समिट का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें 2.50 लाख करोड़ के निवेश का लक्ष्य है। अब तक के रोड शो से लगभग 1.24 लाख करोड़ से अधिक के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं। इन प्रयासों से हम राज्य की जीएसडीपी को आगामी 5 वर्षों में दुगना करने में सफल होंगे।

महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है
उन्होंने कहा, महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए लखपति दीदी योजना के तहत महिला स्वयं सहायता समूहों को पांच लाख तक का ऋण बिना ब्याज के दिया जा रहा है। हमने 2025 तक 1.25 लाख महिलाओं को लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य रखा है। राज्य की महिलाओं को सरकारी नौकरी में क्षैतिज आरक्षण के लिए विधेयक लागू किया जा चुका है।

युवा प्रतिभा के साथ न्याय होगा
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की युवा प्रतिभा के साथ न्याय हो, यह हमारा ध्येय है। राज्य सरकार की भर्तियों में घोटाले करने वाले दोषियों के खिलाफ प्रदेश में पहली बार बड़े स्तर पर कड़ी कार्रवाई की गई। देश का सबसे सख्त नकल विरोधी कानून लागू किया गया। राज्य सरकार स्टार्ट-अप को बढ़ावा देने के लिए 200 करोड़ का वेंचर फंड तैयार करने जा रही है। इससे युवा उद्यमियों को सरकारी स्तर पर फंड मिल सकेगा।

भ्रष्टाचार रोकने के लिए कठोर कदम उठाए
मुख्यमंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार पर प्रभावी नियंत्रण के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। भ्रष्टाचार की शिकायतों को दर्ज करने के लिए हमने जनता के लिए 1064 वेब एप लॉन्च किया है। अपणि सरकार पोर्टल, ई-कैबिनेट, ई-ऑफिस, सीएम डैशबोर्ड उत्कर्ष,सीएम हेल्पलाइन 1905, सेवा का अधिकार और ट्रांसफर एक्ट की पारदर्शी व्यवस्था बनाकर राज्य में भ्रष्टाचार के समूल नाश का प्रयास किया गया है।

समान नागरिक संहिता की ओर प्रभावी कदम
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में समान नागरिक संहिता लागू करने की दिशा में हमनें प्रभावी कदम उठाए हैं। समान नागरिक सहिंता सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास के मूलमंत्र की दिशा में बढ़ाया गया महत्वपूर्ण कदम है।

उत्तराखंड का दशक बनाने के लिए चाहिए सबका सहयोग
सीएम ने कहा कि आगामी दशक तक देश का विकसित सर्वश्रेष्ठ एवं अग्रणी राज्य बनाने के लिए सरकार एवं प्रशासन के साथ ही प्रत्येक उत्तराखंडी से सहयोग की अपेक्षा की है। 23 वर्षों में राज्य ने कई उपलब्धियां प्राप्त की हैं, लेकिन अभी हमें बहुत आगे जाना है।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES