Monday, June 24, 2024
Homeउत्तराखंडराज्यपाल ने परेड ग्राउंड में ध्वजारोहण किया।

राज्यपाल ने परेड ग्राउंड में ध्वजारोहण किया।

राजभवन देहरादून 26 जनवरी, 2020

71वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर राज्यपाल श्रीमती बेेबी रानी मौर्य ने रविवार को प्रातः 10ः30 बजे परेड ग्राउंड में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहण किया तथा राष्ट्रीय ध्वज को नमन करते हुए परेड की सलामी ली। इस अवसर पर सेना, आई.टी.बी.पी., पुलिस, पीएसी, होमगार्ड, पीआरडी के जवानों सहित एन.सी.सी की टुकड़ियों ने मार्च पास्ट करते हुए राज्यपाल को सलामी दी।

राज्य के लोक कलाकारों ने भी अपनी नृत्य कला का मनोहारी प्रदर्शन किया। राज्यपाल श्रीमती मौर्य द्वारा उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले कर्तव्यपरायण पुलिस कर्मियों को सम्मानित किया गया। परेड ग्राउण्ड में आयोजित इस समारोह में प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, मेयर देहरादून सुनील उनियाल गामा, स्थानीय विधायक खजान दास, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, डी.जी.पी. अनिल रतूड़ी, अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश सिंह, राज्यपाल सचिव आर के सुधांशु सहित पुलिस तथा प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, जनप्रतिनिधि, विशिष्ट गणमान्य अतिथि एवं जनसामान्य भी उपस्थित थे।

 राजभवन में ध्वजारोहण 

राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने राजभवन में प्रातः 8ः30 बजे ध्वजारोहण करके राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी। उन्होंने देश की आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले आजादी के महानायकों व संविधान निर्माताओं के प्रति सम्मान और आभार व्यक्त करते हुए उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी। राजभवन में ध्वजारोहण के पश्चात राजभवन के अधिकारियों व कर्मचारियों में मिठाईयां वितरित की। 

परेड ग्राउण्ड में गणतंत्र दिवस के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं मार्चपास्ट

गणतंत्र दिवस के अवसर पर परेड ग्राउण्ड में विभिन्न सांस्कृतिक दलों द्वारा छोलिया, गढ़वाली, कौथिक, बसन्त, हारूल, पौणा नृत्य, खुकुरी नृत्य, रंगपा नृत्य, हिमाद्री नाद, झीं-झीं नृत्य एवं नन्दादेवी राजजात आदि का प्रदर्शन किया गया। श्रीमती मोना बाली और श्री हेमंत बिष्ट द्वारा कार्यक्रम में उद्घोषक के रूप में कार्य किया गया।  परेड ग्राउण्ड में 12 वीं गढ़वाल, आईटीबीपी, उत्तराखण्ड पुलिस, हिमाचल प्रदेश पुलिस, आई.आर.बी द्वितीय, उत्तराखण्ड विशेष पुलिस, उत्तराखण्ड विशेष पुलिस (महिला), होमगार्ड, पीआरडी, एनसीसी ब्वाॅइज, एनसीसी गल्र्स तथा गौरव सेनानी प्लाटून ने मार्चपास्ट में प्रतिभाग किया। मार्चपास्ट करने वाली टुकड़ियों में 12 वीं गढ़वाल राईफल को प्रथम, एन.सी.सी ब्वाॅइज एंड गल्र्स को द्वितीय तथा आई.टी.बी.पी दल को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। 

झाँकियाँ

गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम के दौरान एम.डी.डी.ए, एस0डी0आर0एफ0,  स्मार्ट सिटी, उरेडा विभाग, नागरिक उड्डयन विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, स्वजल ग्राम विकास, संस्कृति एवं पर्यटन विभाग, उद्यान विभाग, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग, उद्योग विभाग एवं नागरिक सुरक्षा विभाग द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों, योजनाओं तथा नीतियों पर आधारित झाँकियों का भी प्रदर्शन किया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग की झाँकी को प्रथम, उरेडा विभाग को द्वितीय तथा उद्यान विभाग एवं संस्कृति एवं पर्यटन विभाग को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ।आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर जिन अधिकारियों/कर्मचारियों को उत्कृष्ट सेवा के लये केन्द्रीय गृह मंत्री एवं मा0 राज्यपाल उत्कृष्ट सेवा पदक प्रदान किये गये, जिनका विवरण निम्नवत् हैः-

पुलिस प्रशिक्षण संस्थानों में नियुक्त निम्न प्रशिक्षकों को उनकी उत्कृष्ट सेवा के लिये  केन्द्रीय गृह मंत्री पदकः-

श्री अखलाख हुसैन, आरक्षी. पी0टी0आई0, पी0टी0सी0 नरेन्द्रनगर।श्री विरेन्द्र कुमार गैरोला, उप निरीक्षक अध्यापक आर0टी0सी0 देहरादून।श्री देवानन्द बलूनी, उप निरीक्षक अध्यापक (सेवानिवृत्त) पी0टी0सी0 नरेन्द्रनगर।श्री भुवन चन्द्र भट्ट, उप निरीक्षक पी0टी0सी0आई0 आर0टी0सी0 देहरादून।श्री मनीष जस्वाल, निरीक्षक, पी0टी0सी0 नरेन्द्रनगर।

उत्कृष्ट सेवा के लिए (सेवा के आधार पर) मा0 श्री राज्यपाल उत्कृष्ट सेवा पदक (03)

श्री विक्रम सिंह नेगी, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी नागरिक पुलिस, जनपद हरिद्वार।श्री हरि सिंह, हेड कान्स0 आई.आर.बी द्वितीय।श्री कंवर पाल, आरक्षी, सतर्कता मुख्यालय देहरादून।विशिष्ट कार्य के लिए मा0 श्री राज्यपाल उत्कृष्ट सेवा पदक (04)श्री रविन्द्र शाह, उप निरीक्षक नागरिक पुलिस जनपद हरिद्वार।श्री अर्जुन कुमार, उप निरीक्षक नागरिक पुलिस जनपद हरिद्वार।श्री अमित कुमार, आरक्षी नागरिक पुलिस जनपद हरिद्वार।श्री प्रभाकर, आरक्षी जनपद हरिद्वार।

Himalayan Discover
Himalayan Discoverhttps://himalayandiscover.com
35 बर्षों से पत्रकारिता के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक, पर्यटन, धर्म-संस्कृति सहित तमाम उन मुद्दों को बेबाकी से उठाना जो विश्व भर में लोक समाज, लोक संस्कृति व आम जनमानस के लिए लाभप्रद हो व हर उस सकारात्मक पहलु की बात करना जो सर्व जन सुखाय: सर्व जन हिताय हो.
RELATED ARTICLES